मिशन वात्सल्य योजना 2022 | Mission Vatsalya Yojana 2022

 मिशन वात्सल्य योजना 2022 क्या है Mission Vatsalya Scheme 2022

 स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा मिशन वात्सल्य शुरू किया गया था। मिशन वात्सल्य को वात्सल्य मैत्री अमृत कोष के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना का उद्देश्य महिलाओं को स्तनपान को बढ़ावा देने और शिशु मृत्यु दर को कम करने का प्रयास किया जा रहा है। इस साल हुई बजट घोषणा में ये साझा हुआ है कि केंद्र सरकार मिशन वात्सल्य को आगे ले जाएगी और शिशुओं और माताओं के लाभ मिलेंगे।

महिला और बाल विकास मंत्रालय ने भी अपनी मुख्य योजनाओं को तीन पार्ट में बाटा गया है। इसमें उन्होंने सभी महत्वपूर्ण योजनाओं को मिशन पोषण 2.0, मिशन शक्ति और मिशन वात्सल्य नामक तीन वर्गों में विभाजित किया गया है। इसे महिला और बाल विकास मंत्रालय की तीन अंब्रेला स्कीम्स में से मिशन वात्सल्य भी एक स्कीम है

मिशन वात्सल्य 2022 की विशेषताएं

• इस योजना से राजधानी दिल्ली में एक राष्ट्रीय मानव दूध बैंक को स्थापित किया गया था।

• इस योजना से  महिलाओं को स्तनपान करवाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा

• इस योजना से एक स्तनपान परामर्श केंद्र का गठन किया गया है।

• इस योजना से शिशुओं और महिलाओं के बेहतर स्वस्थ के लिए लाई गई है।

•  मिशन वात्सल्य को 900 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं।

• इस योजना के तहत शिशु मृत्यु दर को कम करने का प्रयास किया जा रहा है।

• मिशन वात्सल्य के अंतर्गत ब्रेस्टफीडिंग कंसल्टेंसी सेंटर भी बनाया जा चुका है।

मिशन वात्सल्य सैलरी (Mission Vatsalya Salary)

मिशन वात्सल्य योजना से  महिलाओं को लाभ मिलेगा   इसके तहत उन्हें वेतन प्रदान किया जायेगा. जिसकी जानकारी अभी सरकार द्वारा नहीं दी गई है. उसे हम आर्टिकल के माध्यम से आपको बता देंगे

मिशन वात्सल्य पात्रता (Mission Vatsalya Eligibility)

 इस योजना के लिए पात्रता की जानकारी भारत सरकार ने अभी तक नहीं दी है हमें जैसे ही प्राप्त होगी, उसे हम आर्टिकल के माध्यम से आपको बता  देंगे, ताकि आप पात्रता की जानकारी चेक कर सके।

मिशन वात्सल्य दस्तावेज (Mission Vatsalya Documents)

• आधार कार्ड

• पैन कार्ड (आवश्यकता पड़ने पर)

• फोन नंबर

• राशन कार्ड की फोटोकॉपी

• ईमेल आईडी (आवश्यकता पड़ने पर)

• पहचान सर्टिफिकेट

• एड्रेस सर्टिफिकेट

• कास्ट सर्टिफिकेट

मिशन वात्सल्य रजिस्ट्रेशन (Mission Vatsalya Registration)

मिशन वात्सल्य योजना में  रजिस्ट्रेशन करने के बारे में सरकार ने कोई जानकारी नहीं दी है  इसीलिए हम अभी आपको इस योजना में कैसे आप रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, इसकी कोई जानकारी नहीं दे सकते हैं।

 भारत सरकार ने  ग्रामीण इलाकों में इस योजना में अप्लाई करने के लिए ऑफलाइन सुविधा उपलब्ध कराई है । ग्रामीण इलाकों में काम करने वाली आंगनवाड़ी मै आशा कार्यकर्ता के पास स्तनपान कराने वाली महिलाओं की सारी जानकारी रहती है  उनसे इस योजना की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। जैसे ही ऑनलाइन  रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया के बारे में हमें जानकारी मिलती है तो हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बता देंगे

मिशन वात्सल्य उद्देश्य (Mission Vatsalya Objective)

मिशन वात्सल्य उद्देश्य हर पैदा होने वाले बच्चों को स्वस्थ पैदा कर आना है  परंतु कई बार ऐसी स्थिति आ जाती है कि जिससे बच्चे  की मृत्यु हो जाती है। आमतौर पर ऐसी स्थिति का निर्माण तब होता है, जब बच्चों को सही प्रकार का पोषण नहीं मिल पाता है, क्योंकि जब माता को भी  सही पोषण नहीं मिलता है तो माता वह अपने बच्चे को स्तनपान कैसे करवाएगी।

 सरकार  ने ऐसी महिलाओं की समस्या को दूर करने के लिए  मिशन वात्सल्य को चालू करने की घोषणा की । जिससे  स्तनपान को बढ़ावा देने का काम करेगी और पैदा होने वाले बच्चों की मृत्यु दर में कमी लाने का काम करेंगी। इससे भारत में कई परिवार उजड़ने से बच जाएंगे।

मिशन वात्सल्य हेल्पलाइन नंबर (Mission Vatsalya Helpline Number)

मिशन वात्सल्य हेल्पलाइन नंबर से जुड़ी किसी भी समस्या के बारे में जानने के लिए हेल्पलाइन नंबर दी जाती है हालांकि हेल्पलाइन नंबर-से जुड़ी कोई भी जानकारी भारत सरकार ने अपडेट नहीं की है। इस आर्टिकल के माध्यम से Helpline Number की जानकारी आपको दे दी जाएगी । 

FAQ

Q : मिशन वात्सल्य की योजना किसने घोषित की है?

Ans: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

Q : मिशन वात्सल्य के लिए कितना बजट दिया गया है?

Ans: 900 करोड़

Q : मिशन वात्सल्य से क्या होगा?

Ans: बच्चों की मृत्यु दर में कमी आएगी।

Q : मिशन वात्सल्य का टोल फ्री नंबर क्या है?

Ans: अभी तक गवर्नमेंट ने इसका कोई भी टोल फ्री नंबर जारी नहीं किया है। जैसे ही जारी होता है उसे आर्टिकल में अपडेट कर दिया जाएगा।

Leave a Comment